Feb 26, 2024
प्रेम

बारिश और तुम❤️

Read Later
बारिश और तुम❤️

मौसम लेके आया है बारिश,

बूंदो को है तेरी यादों में रंगना!

मन में खिल उठी है ख्वाइश,

मुझे है यू तेरी बाहों में भिगना!

इन बादलों को तो है,

सब के लिए बरसना !

लेकीन मेरे इन आँखो को है,

सिर्फ तेरे ही लिए तरसना!

                    -Trupti Gawali

ईरा वाचनाचा आनंद घ्या आता app मधून, आजच download करा. Download App Now
ईराच्या कथांचे कुठलेही भाग मिस करू नका, आजच जॉईन करा ईरा वाचनालय. व्हाट्सएप: व्हाट्सएप:
Circle Image

Trupti Gawali

सारी बाते जुबान से नहीं होती, कूछ आँखो से भी होती है! -trupti

//